Home देश केजरीवाल के समर्थन मे आये आचार्य प्रमोद ने लगाई मोदी सरकार को...

केजरीवाल के समर्थन मे आये आचार्य प्रमोद ने लगाई मोदी सरकार को फटकार कहा ‘तुम “हुर्रियत” से बात कर सकते हो, मगर “केजरीवाल” से नहीं’

SHARE

नई दिल्ली – दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल दिल्ली प्रदेश में आईएएस अफसरों की हड़ताल को लेकर बीते 7 दिनों से एलजी हाउस (लेफ्टिनेंट गवर्नर हाउस) में धरने पर हैं।  बीते रविवार को आम आदमी पार्टी ने प्रधानमंत्री आवास का घेराव करने के लिए मंडी हाउस से मार्च किया था. उधर आईएस एसोसिएशन ने कहा है कि वो पूरी ईमानदारी से काम कर रहे हैं और सरकार उनके बारे में भ्रम फैला रही है.

आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने मंडी हाउस से प्रधानमंत्री के आवास तक के लिए मार्च किया है और संसद मार्ग पर जाकर ये जुलूस खत्म हुआ. इसके आगे जाने की मंजूरी इन्हें नहीं मिली थी हालांकि इनका इरादा प्रधानमंत्री आवास का घेराव करने का था.

बता दें कि केजरीवाल के इस धरने को दूसरे राज्यों के मुख्यमंत्रियों का समर्थन भी शुरु हो गया है, इनमें देश के बड़े राज्यों के मुख्यमंत्रियों समेत चार मुख्यमंत्री शामिल हैं। दरअस्ल केजरीवाल सात दिन पहले अपने कैबिनेट के मंत्रियों के साथ लेफ्टीनेंट गवर्नर से मुलाकात करने के लिये गये थे, लेकिन एल जी अनिल बैजल ने उन्हें मुलाकात का समय नहीं दिया, जिससे नाराज केजरीवाल अपने डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के साथ एलजी आवास पर ही बैठ गये और जिद पर अड़ गये कि जब तक अनिल बैजल उनसे मिलेंगे नहीं तब तक वे यहां से नहीं जायेंगे।

अब केजरीवाल के समर्थन में मशहूर आचार्य प्रमोद कृष्णम भी उतर आये हैं, उन्होंने मोदी सरकार पर भड़कते हुए कहा है कि हुर्रियत से बात कर सकते हो मगर केजरीवाल से नहीं। आचार्य प्रमोद ने कहा कि अगर वो “मुख्यमंत्री” है, तो उससे बात क्यूँ नहीं करते, और अगर वो “अराजक” है, तो “बर्खास्त” क्यूँ नहीं करते, तुम “हुर्रियत” से बात कर सकते हो, मगर “केजरीवाल” से नहीं.

आचार्य प्रमोद ने कृष्णम ने ये बातें इसलिये कहीं क्योंकि रविवार को भाजपा के राज्यसभा सांसद और विवादित बयानो के लिये मशहूर सुब्रमण्यम स्वामी ने अरविंद केजरीवाल को नक्सली बताया था, और उन मुख्यमंत्री पर भी सवाल दागे थे जिन्होंने अरविंद केजरीवाल का समर्थन किया है।