Home देश मुसलमानों के हालात पर फेसबुक लाईव कर रहीं थीं डॉक्टर ईला मिश्रा,...

मुसलमानों के हालात पर फेसबुक लाईव कर रहीं थीं डॉक्टर ईला मिश्रा, ‘भक्त’ देने लगे भद्दी – भद्दी गालियां

SHARE

नई दिल्ली – मशहूर लेखिका और आजादी के आंदोलन में जमीयत उलमा ए हिन्द और उलमाओं की भूमिका पर रेश्मी रूमाल षड़यंत्र किताब लिख चुकीं डॉक्टर इला मिश्रा बुद्धवार शाम को एक फेसबुक लाईव कर रही थीं जिसमें वे भारतीय मुसलमानों की दुर्दशा और उनकी समस्याओं पर अपनी बात रख रहीं थीं, लेकिन ये साफगोई विचारधारा विशेष के लोगों को रास नहीं आई, और उन्हें भद्दी गालियां देनी शुरू कर दीं।

डॉक्टर ईला मिश्रा ने इन गालियों को लेकर सोशल मीडिया पर नाराजगी जाहिर करते हुए, गाली देने वालों के मानसिक दिवालियेपन पर भी अफसोस जाहिर किया है। उन्होंने कहा कि सच का बोलना बग़ावत है तो हां बागी हूं मै, भारत मे मुसलमानो के बिगडे हालात उनकी आर्थिक ,सामाजिक,शैक्षिक स्थिति से मैने जब आवाम को रूबरू कराने की कोशिश की तो भक्तों को शर्म नही आई के वो एक महिला का अपने आपत्ति जनक शब्दो से चीरहरण कर रहे है ओर हमारी सुनवायी के लिए कोई भी नही है।

क्या कहा था वीडियो में

डॉक्टर ईला मिश्रा ने अपने फेसबुक लाईव मुसलमानों की समस्याओं का जिक्र करते हुए बता रहीं थीं, इन दिनों समाचार चैनलों पर, मुसलमानों को उनके धर्म को, उनकी महिलाओं पर मीडिया के पैनेलिस्टों द्वारा उल्टी सीधी टिप्पणियां की जाती हैं, मुसलमानों को दाढ़ी को लेकर, टोपी लगाने को लेकर टिप्पणियों का सामना करना पड़ता है। लेकिन उसके बावजूद कहा जाता है कि मुसलमान आतंकवादी हैं।

डॉक्टर ईला मिश्रा ने सवाल किया कि बताईये आतंकवादी कौन हैं ? दिल्ली के अंदर ही मुसलमानों को किराये पर मकान नही दिया जाता, उन्हें शक की नजर से देखा जाता है, उनकी देशभक्ती पर शक किया जाता है, और उसके बावजूद मुसलमान यह सब खामोशी से सहन कर रहें जरा बताईये आतंकवादी कौन है ?

देखें वीडियो


उन्होंने बताया कि मुसलमानों को बैंक से लोन नहीं दिया जाता, सरकारी नौकरी में मुसलमानों को कोई सपोर्ट नहीं करता, मुसलमानों की हालता एस.सी. एसटी से भी ज्यादा खराब है। उन्होंने बताया कि छ से 14 साल के बच्चे या तो स्कूल नहीं जाते या फिर बीच में ही पढ़ाई जाती हैं। सिर्फ पचास प्रतिशत मुस्लिम बच्चे ही इंटरमीडिएट की ही कर पाते हैं, ग्रेजुएशन की बात करें तो सिर्फ तीन प्रतिशत मुस्लिम बच्चे ही ग्रेजुएट हैं।

डॉक्टर मिश्रा ये बातें बता ही रहीं थीं कि उनकी ये बातें सोशल मीडिया पर मौजूद अनसोशल लोगों को पसंद नहीं आईं और उन्होंने डॉक्टर ईला मिश्रा को भद्दी गालियां देना शुरू कर दिया। जिस पर डॉक्टर ईला मिश्रा ने गहरी नाराज़गी जाहिर की है। एक यूजर ने जब उन्हें पाकिस्तान चले जाने की बात कही तो डॉक्टर ईला मिश्रा ने उसे जवाब देते हुए कहा कि हां हमें जहां जाना होगा चले जायेंगे, आप कौन होते हैं हमें सलाह देने वाले।