Home देश और अब मुजफ्फरनगर में कांवड़ियों का तांडव, कार में रोते रहे बच्चे...

और अब मुजफ्फरनगर में कांवड़ियों का तांडव, कार में रोते रहे बच्चे लेकिन कांवड़िये करते रहे हमले

SHARE

नई दिल्ली – पिछले कुछ दिनों में शिव भक्त कांवड़ियों द्वारा सड़कों पर उत्पात जारी है. उनके उत्पात के कई वीडियो सामने आ चुके हैं. दिल्ली और यूपी के बुलंदशहर में कांवड़ियों के तांडव के बाद अब मुजफ्फरनगर में भी कांवड़ियों का तांडव दिखा. उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में भी कांवड़ियों की भीड़ ने एक कार की तोड़-फोड़ कर की.

खबरों के मुताबिक, गुरुवार को सड़क पर कांवड़ियों को एक कार छू गई, जिसके बाद कांवड़ियों ने कार को घेर लिया और फिर उसके साथ तोड़-फोड़ करना शुरू कर दिया. हालांकि, कार में मौजूद लोगों को मामूली चोटे आईं हैं. बताया जा रहा है कि कार के अंदर कुछ बच्चे भी मौजूद थे, जो इस पूरी घटना के बाद काफी सहमे हुए हैं.

इससे पहले 7 अगस्त को बुलंदशहर के बुकलाना गांव में कांवड़ियों के दो गुटों में हुए झगड़े के बाद यहां के रजवाहा पुल पर कांवड़ियों ने जमकर उत्पात मचाया था. कांवड़ियों ने पुलिस की जीप पर हमला कर दिया था और जमकर तोड़फोड़ की थी. यही नहीं कांवड़ियों ने पुलिस को भी नहीं बख्शा, पुलिसकर्मियों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा था. इस दौरान एक पुलिसकर्मी घायल भी हो गया था.

इसके अलावा, दिल्ली के मोती नगर में एक गाड़ी से तोड़फोड़ के आरोप में पुलिस ने एक कांवड़िए को गिरफ्तार कर लिया गया है. 7 अगस्त को मोती नगर इलाके में कांवड़ियों के एक ग्रुप ने बीच सड़क पर एक गाड़ी को पूरी तरह तोड़ दिया. वहां पुलिसवाले भी मौजूद थे, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई.

दिल्ली वाला भोला गिरफ्तार

समाचार ऐजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली पुलिस ने उस युवक को गिरफ्तार कर लिया है जिसने सात अगस्त को कार के छू जाने से नाराज होकर कार को डंडे बरसाकर तोड़ दिया था। बता दें कि पहले एक युवक ने कार पर डंडे बरसाने शुरू किये फिर दर्जनों कांवड़ियों ने आकर कार को पलट दिया और उसे क्षतिग्रस्त कर दिया था.

दिल्ली पुलिस के मुताबिक दिल्ली के मोती नगर में उपद्रव के मामले में पकड़ा गया पहला कावड़िया,आरोपी राहुल उर्फ बिल्ला दिल्ली के ही उत्तम नगर का रहने वाला है और उस पर घर में चोरी का एक केस पहले से दर्ज है,वायरल हुई वीडियो के जरिये उसकी पहचान हुई।

गौरतलब है कि मंगलवार को देश की राजधानी दिल्ली में एक महिला कार चला रही थी। उसका दोस्त साथ था। कांवरियों ने सड़क को लगभग पूरी तरह जाम कर रखा था। कार कांवरियों के झुंड में से एक के बाद से छू गया! फिर सारे कांवरियों ने डंडे और लोहे के रॉड से कार की तोड़फोड़ कर दी, उसे उलट दिया! उसमें आग लगाने की कोशिश की! लोग देखते रहे।

जाहिर है, घटना का वीडियो बना! पुलिस आई! महिला ने पिता को खबर की! पिता पैरामिलिटरी फोर्स में ऑफिसर हैं! इस समूची घटना के सरेआम होने और पुलिस की मौजूदगी के बावजूद पुलिस में कोई शिकायत दर्ज नहीं कराई गई! युवती, उसके दोस्त और युवती के सैन्य अफसर पिता ने भी कोई शिकायत नहीं की!