Home देश योगी राज में सुरक्षित नहीं महिलाऐं, केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल के साथ...

योगी राज में सुरक्षित नहीं महिलाऐं, केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल के साथ छेड़छाड़, काफिले में घुसे मनचलों ने किया कमेंट

SHARE

नई दिल्ली – यूपी में योगी सरकार आने के बाद से अपराध का ग्राफ तेजी से ऊपर जा रहा है, महिलाओं के साथ होने वाली छेड़ छाड़ का आलम यह है कि खुद सत्ताधारी पार्टी का विधायक एक महिला के साथ बलात्कार करने के आरोप में जेल में बंद है, तो वहीं केंद्रीय परिवार कल्याण राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल भी मनचलों की करतूतो से सुरक्षित नही हैं।

बीते रविवार को केन्द्रीय परिवार कल्याण राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल के साथ यूपी में बदसलूकी का मामला सामने आया है। घटना दस जून की रात का है जब अनुप्रिया पटले अपने काफिले के साथ औराई और मिर्जामुराद क्षेत्र से गुजर रही थीं। प्राप्त जानकारी के अनुसार केन्द्रीय मंत्री अपने संसदीय क्षेत्र मिर्जापुर में एक कार्यक्रम में शिरकत करके लौट रही थीं।

इसी दौरान बगैर नंबर की कार में घूम रहे तीन लोगों ने उनकी गाड़ी को ओवरटेक करने की कोशिश की। युवकों की इस हरकत पर मंत्री की सुरक्षा में तैनात सुरक्षाकर्मियों ने उनको चेतावनी भी दी। लेकिन उन युवकों ने सुरक्षाकर्मियों की चेतावनी को नजरअंदाज कर ना सिर्फ केंद्रीय मंत्री पर कमेंट किये बल्कि सुरक्षाकर्मियों के साथ बदसलूकी भी की।

केंद्रीय मंत्री ने की शिकायत

मोदी सरकार में परिवार कल्याण राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल ने इस घटना के बारे में वाराणसी के एसएसपी आर के भारद्वाज से शिकायत की है, शिकायत के बाद तीनों लोगों की तलाश शुरू की गई। मिर्जामुराद में पुलिस ने हाईवे पर बैरिकेडिंग कर कार रोकी और तीनों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की। पुलिस की पूछताछ में पता चला कि तीनों भदोही के रहने वाले हैं और बीएएमएस में पढ़ रहे हैं।

जानकारी के लिये बता दें कि यूपी में जब योगी आदित्यनाथ की सरकार बनी थी तो उसी वक्त उनकी पहली प्राथमिकता में महिलाओं की सुरक्षा और छेड़खानी करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करना शामिल था। योगी सरकार ने एंटी रोमियो दस्ते का गठन भी किया गया था। लेकिन यूपी में महिला अपराध को रोक पाना अभी भी योगी सरकार के लिये एक चुनौती बनी हुई है।