Home खेल ‘शराब’ की वज़ह से इंग्लैंड के ये दोनों मुस्लिम खिलाड़ी रहे जीत...

‘शराब’ की वज़ह से इंग्लैंड के ये दोनों मुस्लिम खिलाड़ी रहे जीत के जश्न से दूर कहा -इस्लाम में ये…

SHARE

नई दिल्ली – इंग्लैंड में पांच टेस्ट सीरीज में से 4 में जीत हासिल कर भारत को हरा दिया है. ओवल मैदान पर इंग्लैंड के हाथों पांचवें और आखिरी टेस्ट मैच के पांचवें दिन मंगलवार को 118 रन से हार का सामना करना पड़ा. इस टेस्ट सीरीज में इंग्लैंड को मिली जीत के बाद टीम के दो स्पिन गेंदबाज मोइन अली और आदिल रशीद नहीं कुछ ऐसा किया है. जिसके चलते वह दुनिया भर में तारीफ के पात्र बन चुके हैं.

आपको बता दें कि भारत को हराकर इंग्लैंड जीत का जश्न मना रहा था लेकिन टीम के इस जश्न में शामिल होने से मोइन अली और आदिल राशिद ने साफ इंकार कर दिया. आपको बता दें कि जिस वक्त इंग्लैंड टीम के सभी खिलाड़ी जीत का जशन मना रहे थे.तो यह दोनों खिलाड़ी उन से बिल्कुल अलग जाकर खड़े हो गए.

आइए आपको बताते हैं कि इन दोनों खिलाड़ियों ने इस जीत के जश्न में शामिल होने से इंकार क्यों किया दरअसल इंग्लैंड की टीम इस जीत का जश्न शैंपेन पीकर मना रही थी.गौरतलब है कि शैंपेन एक तरह की शराब होती है और इस्लाम में शराब पीना मना है.बता दें कि इस्लाम में शराब का इस्तेमाल करना या फिर इस मामले में प्रचार प्रसार करना पाप माना जाता है और धर्म में आस्था रखने वाले मुस्लिम लोग शराब से दूर रहना ही पसंद करते हैं.

इससे पहले ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर हाशिम अमला भी शराब का प्रचार-प्रसार करने से इंकार कर चुके हैं उन्होंने अपनी जर्सी पर बनी हुई शराब की फोटो को हटाने की मांग की थी. गौरतलब है कि हाशिम अमला भीम धर्म से जुड़े हुए शख्स हैं और वह हमेशा अपने उसूलों के पक्के रहे हैं. अब इन दोनों खिलाड़ियों ने भी ऐसा कर समुदाय के लोगों में एक अच्छा संदेश दिया है.

बताया जा रहा है कि इंग्लैंड की टीम टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने वाले एलिस्टर कुक के साथ पूरी टीम जशन के चलते शराब पी रही थी. लेकिन इस दौरान मोइन अली और आदिल राशिद ने इस जशन से दूरी बनाए रखना ही बेहतर समझा.आपको बता दें कि इन दोनों खिलाड़ियों द्वारा किए गए इस नेक काम के बाद लाखों क्रिकेट फैंस उनकी जमकर तारीफ कर रहे हैं.दुनियाभर में मुस्लिम समुदाय के लोग इन दोनों खिलाड़ियों पर गर्व महसूस करते नहीं थक रहे हैं. और सोशल मीडिया पर भी इनकी काफी वाहवाही हो रही है.