Home देश एक और सर्वेः इन तीन राज्य में भाजप को होगा एक तिहाई...

एक और सर्वेः इन तीन राज्य में भाजप को होगा एक तिहाई सीटों का नुकसान, कांग्रेस के आऐंगे ‘अच्छे दिन’

SHARE

नई दिल्ली – चुनाव आयोग ने पांच राज्यों में विधान सभा चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया है. जिसके बाद सियासी घमासान और तेज हो गया है. इस बीच टाइम्स नाऊ नाम के अंग्रेजी न्यूज चैनल ने तीन उन राज्यों का सर्वे किया है जिसमें भाजपा की सरकार है. ये राज्य मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान हैं. इन राज्यों में विधान सभा के साथ-साथ लोकसभा चुनावों के मद्देनजर चुनाव पूर्व सर्वे कराया गया है.

सर्वे के अनुसार भाजपा को लोकसभा चुनाव में लगभग एक तिहाई सीटों का नुकसान हो सकता है. सर्वे के अनुसार भाजपा शासित इन तीनों राज्यों की कुल 65 लोकसभा सीटों में से भाजपा को 43 पर जीत मिल सकती है जबकि इन राज्यो में लंबे समय से सत्ता बाहर चल रही कांग्रेस 22 सीटों पर जीत सकती है. 2014 में भाजपा इन 65 सीटों में 62 सीटें जीती थीं जबकि कांग्रेस सिर्फ तीन सीट ही जीत सकी थी. सर्वे के अनुसार भाजपा को कुल 19 सीटों का नुकसान हो सकता है. यानी इतनी सीटों का कांग्रेस को फायदा हो सकता है. बता दें कि इन तीनों राज्यों में अभी भाजपा की सरकार है.

अंग्रेजी न्यूज़ चैनल के सर्वे वाररूम स्ट्रेटजी के अनुसार लोकसभा चुनावों में भाजपा शासित मध्य प्रदेश की कुल 29 लोकसभा सीटों में से 21 पर भाजपा की जीत हो सकती है जबकि आठ सीटों पर कांग्रेस की जीत हो सकती है. कुछ दिनों पहले एबीपी-सी वोटर के सर्वे में बताया गया था कि मध्य प्रदेश में भाजपा को 23 और कांग्रेस को छ लोकसभा सीटों पर जीत मिल सकती है. पोल ऑफ पोल्स के अनुसार भाजपा के खाते 22 और कांग्रेस के खाते में सात सीटें जा सकती हैं. गौरतलब है कि 2014 के लोकसभा चुनाव में मध्य प्रदेश में भाजपा को 27 और कांग्रेस को सिर्फ दो सीटें मिली थीं.

छत्तीसगढ़ में वाररूम स्ट्रेटजी सर्वे के अनुसार भाजपा को कुल आठ सीटें मिल सकती हैं जबकि कांग्रेस को तीन सीटें मिलने का दावा किया गया। बता दें कि छत्तीसगढ़ में लोकसभा की कुल 11 सीटें हैं. एबीपी-सी वोटर सर्वे में छत्तीसगढ़ में भाजपा को 9 और कांग्रेस को दो सीटें मिलने का अनुमान जताया गया था. पोल ऑफ पोल्स के अनुसार छत्तीसगढ़ में भाजपा को नो और कांग्रेस को दो सीटें मिल सकती हैं. 2014 में यहां से भाजपा ने कुल 10 सीटें जीती थीं जबकि कांग्रेस को महज एक सीट पर ही जीत मिल सकी थी.

वाररूम स्ट्रेटजी सर्वे के अनुसार भाजपा शासित राजस्थान में लोकसभा चुनाव में भाजपा को सबसे ज्यादा 11 सीटों का नुकसान उठाना पड़ सकता है. राज्य में 25 सीटें हैं और 2014 में इन सभी सीटों पर भाजपा की जीत हुई थी. सर्वे के अनुसार भाजपा को 14 और कांग्रेस की 11 सीटों पर जीत हो सकती है.

एबीपी-सी वोटर के सर्वे के अनुसार राज्य में भाजपा को 18 और कांग्रेस को सात सीटें मिल सकती हैं, जबकि पोल ऑफ पोल्स के अनुसार भाजपा को 16 और कांग्रेस को 9 सीटें मिल सकती हैं. अन्य के हिस्से में एक भी सीट नहीं जाने का अनुमान जताया गया है. इन तीनों राज्यों में विधान सभा चुनाव नवंबर-दिसंबर में होंगे और नतीजे 11 दिसंबर को आएंगे.