Home देश टीवी स्टूडियो में BJPऔर सपा प्रवक्ता के बीच मार पीट, वरिष्ठ पत्रकार...

टीवी स्टूडियो में BJPऔर सपा प्रवक्ता के बीच मार पीट, वरिष्ठ पत्रकार बोले ‘समाज का एक हिस्सा एकदम हिंसक हो गया है’

SHARE

नई दिल्ली – टीवी पर होने वाली अक्सर डिबेट अब विवाद का विषय बनती जा रही हैं, इसी सालसे नया ट्रेंड देखने को मिला है जब टीवी पर पेनेलिस्ट आपस में ही एक दूसरे परहाथापाई पर उतर आते हैं। ताजा मामला सपा प्रवक्ता अनुराग भदौरिया और भाजपाप्रवक्ता गौरव भाटिया का है जिसमें दोनों प्रवक्ता एक दूसरे से मार पीट पर उतर आए,इसके बाद गौरव भाटिया ने सपा प्रवक्ता की पुलिस से शिकायत की जिसके बाद उन्हेंपुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

टीवी मीडिया के बदलते इस स्वरूप पर वरिष्ठ पत्रकार प्रशांत टंडन ने गहरी चिंता जाहिर की है, उन्होंने इस मार पीट का वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा है कि मोदी का ‘कांग्रेस की विधवा’ कहना, बीजेपी प्रवक्ता गौरव भाटिया द्वारा समाजवादी प्रवक्ता से टीवी स्टूडिओ में मार पीट और बुलंदशहर में पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध सिंह की हत्या, सोशल मीडिया के ट्रोल, मॉब लिंचिंग – ये सब कुछ भारत के समाज में बिलकुल नया है. पाँच साल पुराना.

उन्होंने कहा कि अचानक ऐसा क्या हुआ है कि समाज का एक हिस्सा एकदम हिंसक हो गया है. हालात यहां तक आगाए हैं कि अगर मैं अपने रिश्तेदारों या बचपन के दोस्तों से भी राजनीतिक चर्चा करूं तो वही होगा जो इस वीडियो में गौरव भाटिया करते हुये दिख रहे हैं. बहुतों से बोलचाल बंद हो चुकी है.

दूसरी तरफसमाज का एक बड़ा हिस्सा ज्यादा नैतिक और सोहार्द पूर्ण होता दिख रहा है. खासकर नईपीढ़ी. तमाम सामाजिक समूहों में मेलजोल बढ़ा है. हो सकता है मैं गलत हूँ क्योंकिमैंने इसका कोई सर्वे नहीं किया है पर ये बीमारी मुझे सवर्णों में ज्यादा दिखाई देरही है. मैं इस नतीजे पर इसलिये पहुंचा क्योंकि बाकी सामाजिक वर्गों से मेरे निजीसंबंध नहीं बिगड़े हैं.

प्रशांत टंडन वरिष्ठ पत्रकार

मोदी के समर्थकों में ही ये हिंसा की प्रवृत्ति क्यों बढ़ी है इसका अध्ययन होना चाहिये. अब गौरव भाटिया को ही लीजिये ये समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता के तौर पर भी कई बरस टीवी पर आये – तीखी बहस भी हुई होगी कई बार पर मारपीट तक बात नहीं पहुंची. अब ऐसा क्या हो गया कि वो हिंसा पर उतारू हो गये. कहीं कोई बीमारी ज़रूर है.